अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (अईएलओ) ने मंगलवार को एक रिपोर्ट में कहा है कि कोरोनावायरस संकट से निपटने के लिए सरकार ने सम्पूर्ण देश में लॉकडाउन लगाया हुआ है. जिसके कारण भारत में असंगठित (इनफॉर्मल) क्षेत्र में काम करने वाले 40 करोड़ लोग प्रभावित होंगे ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है. इनफॉर्मल सेक्टर में नौकरियों और कमाई पर असर पड़ सकता है जिससे वे गरीबी चक्र में फंस सकते हैं.

भारत में करीब 90 फीसदी लोग इनफॉर्मल सेक्टर में काम करते हैं
इस रिपोर्ट के अनुसार भारत उन देशों में से एक है जो स्थिति से निपटने को लेकर कम तैयार हैं. जिनीवा में जारी आईएलओ की रिपोर्ट के अनुसार कोरोनावायरस के कारण असंगठित क्षेत्र में काम करनेवाले करोड़ों लोग प्रभावित हुए हैं. भारत, नाइजीरिया और ब्राजील में लॉकडाउन के कारण अंसगठित क्षेत्र में काम करनेवाले कामगारों पर ज्यादा असर पड़ा है. रिपोर्ट के अनुसार, भारत में करीब 90 फीसदी लोग इनफॉर्मल सेक्टर में काम करते हैं. ऐसे में करीब 40 करोड़ कामगारों के रोजगार और कमाई प्रभावित होने की आशंका है. इससे वे गरीबी के दुष्चक्र में फंसते चले जाएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here